रिलायंस पावर प्लांट के विस्थापित भाइयो को मिला सांसद रीती पाठक जी का समर्थन


सांसद रीती पाठक जी ने वीडियो में कह दी यह बड़ी बात देखें ख़ास वीडियो 



TOC NEWS @ www.tocnews.org


जिला ब्यूरो चीफ सिंगरौली  // नीरज गुप्ता  7771822877 


सिंगरौली ।  आज विस्थापित परिवार संघ को 11वे दिन *सांसद रीती पाठक जी* ने समर्थन देते हुये कही की विस्थापित भाइयो की आप लोगो का सभी जायज मांगे है | हम आपके साथ है | जब जैसा सहयोग चाहिये साथ मे है | 


कंधा से कंधा मिलकर आप लोगो की लडाई लड़ूंगी, जरूरत पडेगी तो लोकसभा मे भी आवाज उठाऊंगी | और मै आज ही कलेक्टर साहब को पत्र लिख रही हो, जल्द से जल्द आप लोगो की मांगे जिला प्रशासन एंव कम्पनी प्रबंधक मांगो को पुरा करे|


देवसर विधायक शुभाष वर्मा जी ने कहा की जरूरत पडेगा तो हम सबसे पहले रिलायंस पावर प्लांट के ऊपर ताला बंद करेगे हम विस्थापित भाइयो के साथे मे है आप लोगो का जायज मांगे है हर समय विस्थापित भाइयो का मदद करेंगे।  रिलायंस पावर प्लांट के खिलाफ निरंतर चल रहे विस्थापित परिवार संघ के आंदोलन में आज धरने के 11 वे दिन  प्रदर्शनकारियों द्वारा सरकार व रिलायंस कंपनी के खिलाफ सद्बुद्धि अखंड पाठ किया गया ।


इसे भी पढ़ें :- मां करती थी संस्कारी रोल, बेटी ने फिल्मों मे आते ही किसिंग सीन देना शुरू कर दिया


विस्थापित परिवार संघ के सदस्य संदीप शाह ने कहा की पिछले दस दिनों से हम हजारों विस्थापित यहां लगातार धरना-प्रदर्शन कर रहे है । परंतु इस असंवेदनशील सरकार और पूंजीपति रिलायंस कंपनी के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही । जो साफ तौर पर यह दर्शाता है की ये लोग मानसिक रूप से अस्वस्थ हो गए है । उनकी मानसिक कुशलता के लिए आज हमने यह सद्बुद्धि अखंड पाठ का आयोजन किया है और क्योंकि हम गांधीवादी लोग है इसीलिए उनसे प्रेरणा लेकर गाँधी के प्रिय भजन गा रहे है ।


इसे भी पढ़ें :- शिवराज सिंह के खिलाफ एफआईआर के निर्देश


झांझी सरपंच रूपनाायण सिंह पोया जी ने कहा है की 3500 से ज्यादा परिवार साल 2008 में रिलायंस पावर प्लांट के लिए विस्थापित किये गए थे, और उनसे वादा किया गया था की विस्थापन पुनर्वास नीति 2002 के तहत उन्हें मुआवजा और हर घर से एक व्यक्ति को पावर प्लांट में नोकरी दी जाएगी । परंतु आज दस साल के बाद भी प्रशासन और कंपनी दोनों ही अपने वादों पर खरी नहीं उतरी है । जिसके खिलाफ सभी पांच ग्रामसभा के  परिवार लामबंद होकर कंपनी गेट पर पिछले 11 दिनों से अपने अधिकारों के लिए प्रदर्शन कर रहे है ।


इसे भी पढ़ें :- स्तनपान और स्वच्छता जागरूकता के लिए एनसीएल ने लगाया जागरूकता शिविर, 250 महिलाओं एवं बच्चों को स्वच्छता किट और कपड़े के थैले बांटे


 बेरोजगारी की महामारी झेल रहे और अपनी जीविका से वंचित हो चले यह विस्थापित परिवार अब आज आंदोलन के 11वे दिन अखंड पाठ करके विरोध दर्ज कराए हैे ।


विस्थापित परिवार संघ के सदस्य पुर्व सरपंच राममिलन बैस,दिलकेश सेन,प्रेमचन्द विश्वक्रर्मा,राधिका बैस, सरपंच जागबली बैस,नित्यानंद बैस,सति रजक,सीतल शाह,लालता शाह,बबईराम,कमला साकेत,रामलगन तिवारी,देवेश पाण्डेय,सुन्दर शाह, इत्यादि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।


Popular posts
ग्रेसिम उद्योग के विस्तारीकरण के पूर्व 7 सूत्रीय मांग पत्र उद्योग चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला सहित बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को भेजकर उठाई मांग
Image
दैनिक वांटेड टाइम्स के संपादक संदीप मानकर को खबर प्रकाशन के मामले के प्रकरण में भोपाल से गिरफ्तार कर हरियाणा पुलिस ले गई
Image
हां, चना भाड़ फोड़ सकता है : भरतचन्द्र नायक 
Image
सरकार और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, 3 दिसंबर को फिर होगी बातचीत, जारी रहेगा प्रदर्शन
Image
नीलामी में घोटाला : पति रंजीत कर्नाल की शाजिस पर 41 लाख की जमीन 12 लाख में नीलाम करने वाली तहसीलदार दीपाली निलंबित
Image