जनकल्याण और विकास में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका, जनसरोकार और मीडिया संगोष्ठी संपन्न
जनकल्याण और विकास में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका, जनसरोकार और मीडिया संगोष्ठी संपन्न

TOC NEWS @ www.tocnews.org


जिला ब्यूरो चीफ जबलपुर // प्रशांत वैश्य : 79990 57770


जबलपुर . मध्यप्रदेश सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर जन सरोकार और मीडिया विषय पर संगोष्ठी का आयोजन होटल कल्चुरी रेसीडेंसी के सभागार में किया गया। संगोष्ठी में वरिष्ठ पत्रकारों ने कहा कि नि:संदेह राज्य सरकार द्वारा जन कल्याण और विकास के लिए उल्लेखनीय कार्य किए जा रहे हैं।


मीडिया ने राज्य शासन के प्रयासों को मजबूती प्रदान करने और योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए अपेक्षित सहयोग दिया है। पत्रकारों ने आमजन की भलाई और विकास के अनेक मुद्दों पर शासन का ध्यान आकृष्ट करने के लिए उपयोगी सुझाव भी दिए। संगोष्ठी संभागीय जनसंपर्क कार्यालय जबलपुर द्वारा आयोजित की गई।       


संगोष्ठी में दैनिक नई दुनिया समाचार पत्र के स्थानीय संपादक रवीन्द्र दुबे, दैनिक अग्निबाण समाचार पत्र के संपादक काशीनाथ शर्मा, दैनिक जयलोक समाचार पत्र के संपादक सच्चितानंद शेकेटकर, दैनिक जनपक्ष समाचार पत्र के संपादक विप्लव अग्रवाल, भास्कर केबल नेटवर्क के संपादक गंगाचरण मिश्रा और एक्सप्रेस मीडिया सर्विस के ब्यूरो प्रमुख जहीर अंसारी ने विचार व्यक्त किए। मंच का संचालन वरिष्ठ पत्रकार पवन पाण्डे ने किया।     


इसे भी पढ़ें :- कमलनाथ के युवा मंत्री जीतू पटवारी ने युवा कांग्रेस अध्यक्ष को लात जूते ठोक कर बाहर निकला, देखें वीडियो 


दैनिक नई दुनिया समाचार पत्र के संपादक रवीनद्र दुबे ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन के समय मीडिया ने आजादी के आंदोलन को गति देने के साथ सामाजिक बुराईयों के विरूद्ध आवाज उठाई थी और लोगों को जागरूक किया था। उन्होंने कहा 1991 के बाद भूमण्डलीकरण के बाद मीडिया द्वारा जन सरोकार से जुड़े मुद्दों पर अपेक्षाकृत कम ध्यान दिया जा रहा है। आज आवश्यकता है कि पत्रकार पत्रकारिता की अभिजात्यवर्गीय संस्कृति से बाहर निकलकर गरीब और शोषितों से संबंधित मुद्दों को प्रमुखता से उठाएं।


उन्होंने कहा वर्तमान सरकार आमजन के लिए जनसरोकार से जुड़े मुद्दों पर अच्छा कार्य कर रही है। बड़े स्तर पर पीड़ित व्यक्तियों ने राहत महसूस भी की है। उन्होंने शासन की इंदिरा गृह ज्योति योजना, मुख्यमंत्री गौसेवा योजना को बहुत उपयोगी कहा। श्री दुबे ने कहा कि शहरी क्षेत्र में शालेय बच्चों में गाय के लिए सम्मान का भाव जागृत करना चाहिए। गाय का संरक्षण शहरी क्षेत्र हो सके इस  पर मीडिया को काम करना होगा। उन्होंने कहा गाय, नर्मदा नदी स्वच्छता, शहर की स्वच्छता, शहर को धूलमुक्त बनाने को अभियान के रूप में लेना होगा।     


इसे भी पढ़ें :- पशुधन बीमा योजना प्रदेश के प्रत्येक जिले में लागू पशुपालक अपने दुधारु पशुओं का बीमा करा सकेंगे, जाने पूरी योजना 


दैनिक अग्निबाण समाचार पत्र के संपादक काशीनाथ शर्मा ने कहा कि पत्रकार को जनसरोकार से जुड़े मुद्दों पर खुलकर लिखना चाहिए। नर्मदा नदी के घाटों की गंदगी की रोकथाम के लिए मुहिम चलाई जा सकती है। 12 महीनों चलने वाले भण्डारों को सीमित किया जा सकता है। इन पर होने वाले व्यय का स्वरूप बदलकर गरीब कन्या विवाह और शिक्षा की ओर मोड़ा जा सकता है। उन्होंने माफिया के विरूद्ध शासन द्वारा की जा रही कार्रवाई को बहुत उपयोगी कहा। यह भी कहा कि माफिया के साथ कुछ शासकीय अफसरों-कर्मचारियों की मिलीभगत को उजागर करते हुए दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के जनकल्याण के कार्य बेहतर ढंग से चलाए जा रहे हैं। सरकार की कार्यप्रणाली ने एक लय हासिल कर ली है।       


दैनिक जयलोक समाचार पत्र के संपादक सच्चितानंद शेकेटकर ने कहा कि जनसरोकार की कोई सीमा नहीं होती। शासन का माफिया के विरूद्ध अभियान सराहनीय है। अधिकारियों को पूरी निष्ठा के साथ शासन की मंशा का क्रियान्वयन करना चाहिए। उन्होंने विकास के छिंदवाड़ा माडल को उपयोगी बताया। कहा कि ऐसा ही विकास हर क्षेत्र का होना चाहिए। वर्तमान सरकार द्वारा जनसरोकार से जुड़े अनेक मुद्दों पर पहली बार ध्यान दिया गया है। मुख्यमंत्री गौ सेवा योजना पर बहुत अच्छा कार्य हो रहा है। जबलपुर में स्मार्ट गौशाला भी प्रस्तावित हैं। आवारा पशु सड़क पर दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं। घायल पशुओं का बेहतर इलाज देखभाल जरूरी है। मीडिया को सरकार के इन प्रयासों को गति देने में सहभागी बनना चाहिए। जबलपुर का मटर विश्व प्रसिद्ध है अत: कार्न महोत्सव की भांति मटर महोत्सव भी होना चाहिए। मीडिया को आमजन और सरकार के बीच कड़ी के रूप में कार्य करना होगा।       


इसे भी पढ़ें :- शिवराज सरकार का घोटाला : भोपाल को- ऑपरेटिव बैंक के 111 करोड़ के घोटाले में एमडी विश्वकर्मा, मैनेजर अनिल भार्गव सुभाष शर्मा गिरफ्तार


भास्कर केवल नेटवर्क के संपादक गंगाचरण मिश्र ने कहा कि राज्य सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल में विकास के जमीनी स्तर के कार्य शुरू हुए हैं। उन्होंने राज्य शासन द्वारा जबलपुर में आयोजित ओशो महोत्सव को बहुत उपयोगी बताया और कहा कि जबलपुर पं. द्वारिका प्रसाद मिश्र, पं. रविशंकर शुक्ल और अन्य अनेक विभूतियां का कार्य क्षेत्र रहा है। इनके सम्मान के लिए भी ओशो महोत्सव जैसे आयोजन होने चाहिए। शहर की प्रतिभाओं को सम्मान मिलना चाहिए। पर्यटन के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कार्य हुए हैं। इस ओर ध्यान देने की आवश्यकता है। प्राकृतिक वातावरण का संरक्षण जरूरी है। नर्मदा घाटों का विकास शुद्धीकरण, ऐतिहासिक स्थलों के विकास के लिए मीडिया को काम करना होगा। वर्तमान में सही अर्थों में समग्र विकास को गति मिली है। उन्होंने माफिया के विरूद्ध शासन के अभियान की सराहना की।       


इसे भी पढ़ें :- मप्र पुलिस भर्ती परीक्षा: आरक्षक 9000 पद, सब इंस्पेक्टर 200 पद


एक्सप्रेस मीडिया सर्विस ईएमएस के ब्यूरो प्रमुख वरिष्ठ पत्रकार जहीर अंसारी ने कहा कि जन सरोकार से जुड़े मुद्दों पर मीडिया की सोच शासन तक पहुंचाई जानी चाहिए। मीडिया द्वारा उठाई गई जनसमस्याओं का निराकरण शासन द्वारा हो ऐसी व्यवस्था बनाई जानी चाहिए। मीडिया का दायित्व है कि आम आदमी की समस्याओं, शिक्षा की परेशानी आदि मुद्दों को उठाया जाए, लिखा जाए। उन्होंने राज्य शासन के बड़े अभियान शुद्ध के लिए युद्ध- मिलावट के खिलाफ अभियान को बहुत उपयोगी कहा। उन्होंने कहा शासन के ऐसे अभियानों के लिए पत्रकारों को खुलकर समर्थन करना चाहिए। उन्होंने कहा स्वच्छता, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि जनसरोकार के क्षेत्र में सत्य को उजागर करने में पत्रकार कभी भी नहीं चूकें।       


दैनिक जनपक्ष के संपादक विप्लव अग्रवाल ने कहा कि यह देखा गया है कि मीडिया को जनसरोकार से जिन मुद्दों को प्रमुखता से हाई लाइट किया जाना चाहिए वह नहीं हो रहे है। उन्होंने ओशो महोत्सव के समान हरिशंकर परसाई, पं.द्वारिका प्रसाद मिश्र आदि गौरव पुत्रों का स्मरण और सम्मान करते हुए आयोजन की आवश्यकता रेखांकित की। श्री अग्रवाल ने कहा कि विजय दिवस पर राज्य शासन की प्रचार सामग्री में जबलपुर के योगदान का उल्लेख नहीं हैं। जबकि सन 1971 के युद्ध में 85 हजार युद्धबंदियों को जबलपुर में रखा गया था। उन्होंने जबलपुर में पर्यटन को बढ़ाने और भेड़ाघाट में पर्यटन को बढ़ाने के लिए अधिक प्रयासों की आवश्यकता बताई। श्री अग्रवाल ने कहा कि पत्रकारों की समस्या समाधान के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर समितियां गठित होनी चाहिए।     


इसे भी पढ़ें :- भू माफिया अशोक गोयल का श्यामला हिल्स क्षेत्र में अवैध रूप से बनाये गये आफिस पर चला बुलडोजर 


मंच संचालन वरिष्ठ पत्रकार पवन पाण्डे द्वारा किया गया। श्री पाण्डे ने मंच संचालन के दौरान जनसरोकार एवं मीडिया की भूमिका पर सारगार्भित विचार व्यक्त किए। उन्होंने जनसमस्या निवारण तथा जनकल्याण के लिए शासन के प्रयासों की सराहना की। श्री पाण्डे की मंच संचालन प्रतिभा सभी को मंत्रमुग्ध कर गई।       


स्वागत भाषण संयुक्त संचालक जनसंपर्क अतुल खरे ने दिया। आभार प्रदर्शन जनसंपर्क कार्यालय के लेखाधिकारी विजय कुमार विश्वकर्मा द्वारा किया गया। दीप प्रज्जवलन के साथ संगोष्ठी का शुभारंभ हुआ। संगोष्ठी में प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के वरिष्ठ पत्रकारगण, सहायक संचालक जनसंपर्क आनंद जैन तथा जनसंपर्क विभाग के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।


 


इसे भी पढ़ें :- यहां होता है देह व्यापार, अड्डों पर दबिश, 4 नाबालिग सहित 12 लड़किया हिरासत में


Popular posts
हत्या के प्रयास में 07 माह से फरार कुख्यात बदमाश शादाब जहरीला का साथी राज प्रजापति को तलैया पुलिस ने किया गिरफ्तार
Image
वीडियो : प्रेमिका के साथ थाना प्रभारी रंगरेलिया मनाते रंगे हाथों पकड़ाये, पत्नी ने आकर धर दबोचा, TI लूँगी बनियान में भागे
Image
पत्रकार संगठन AISNA, ALL INDIA SMALL NEWS PAPERS ASSOCIATION
Image
दैनिक वांटेड टाइम्स के संपादक संदीप मानकर को खबर प्रकाशन के मामले के प्रकरण में भोपाल से गिरफ्तार कर हरियाणा पुलिस ले गई
Image
कोरोना का दंश झेल रही जनता, रुपए पैसो की हो रही किल्लत - क्या करें बैंक और क्या करें अधिकारी
Image