आईपीएस कॉन्क्लेव के दौरान भोपाल के बड़े तालाब में नाव पलटी, डीजीपी की पत्नी समेत कई अफसर भी थे सवार
आईपीएस कॉन्क्लेव के दौरान भोपाल के बड़े तालाब में नाव पलटी, डीजीपी की पत्नी समेत कई अफसर भी थे सवार

TOC NEWS @ www.tocnews.org


खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036



  • डीजीपी की पत्नी समेत कई अफसर भी थे सवार

  • बाल-बाल बची जान


भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज बड़ा हादसा होते-होते बचा. यहां बड़े तालाब में एक नाव पलट गई. नाव में डीजीपी वीके सिंह की पत्नी सहित आईपीएस ऑफिसर्स कॉन्क्लेव  में शामिल होने आए पुलिस अफसर और उनके परिवार के लोग सवार थे. लेकिन मौके पर तैनात गार्ड्स की सतर्कता के कारण कोई हताहत नहीं हुआ. गार्ड्स ने तत्काल सबको पानी से निकाल लिया.


जो बोट पलटी उसमें डीजीपी वीके सिंह की पत्नी तुहीन सिंह, आईपीएस अफसर राजेश चावला और उनकी पत्नी सुनीता चावला, एडीजी विजय कटारिया के बेटे दीपांशु कटारिया, आईपीएस अफसर अरजरिया का बेटा अपूर्व अरजरिया, पुरुषोत्तम शर्मा की पत्नी प्रिया शर्मा सहित कुछ अन्य लोग सवार थे.


सैर-सपाटे पर निकले थे सभी लोग


भोपाल में IPS ऑफिसर्स कॉन्क्लेव चल रहा है. दो दिन की इस मीट का गुरुवार को आखिरी दिन है. आज पुलिस अफसर और उनके परिवार फन एक्टिविटी और सैर-सपाटे पर निकले थे. बड़े तालाब में वॉटर स्पोर्ट्स का भी कार्यक्रम था. सभी लोग मौज-मस्ती में थे. डीजीपी और उनकी पत्नी सहित अन्य आईपीएस अफसर और उनके परिवार बोटिंग का आनंद ले रहे थे. उसी दौरान एक नाव पलट गई. नाव में पुलिस अफसर और उनके परिवार सवार थे. सभी लोग पानी में गिर गए. मौके पर गार्ड्स भी तैनात थे. उन्होंने तत्काल सबको पानी से निकाल कर जान बचा ली.


IPS कॉन्क्लेव में प्रदेशभर के ऑफिसर्स शामिल


बुधवार को भोपाल में दो दिन का ये IPS ऑफिसर्स कॉन्क्लेव शुरू हुआ था. सीएम कमलनाथ ने इसका उद्घाटन किया था. कॉन्क्लेव में शामिल होने प्रदेशभर के आईपीएस अफसर और उनके परिवार भोपाल आए हैं. बुधवार को उद्घाटन सत्र के बाद डीजीपी सहित अफसरों ने क्रिकेट मैच खेला था. उसके बाद संगीत संध्या में गीत-संगीत हुआ था. अफसरों और उनकी पत्नियों ने भी परफॉर्म किया था.


सितंबर में भी हुआ था हादसा


इससे पहले भोपाल के छोटे तालाब में सितंबर में नाव हादसा हो चुका है. खटलापुरा घाट पर अनंत चतुर्दशी के दिन गणेश प्रतिमा के विसर्जन के दौरान नाव पलट गई थी. उसमें सवार 11 युवकों की मौत हो गई थी. सभी प्रतिमा विसर्जन के लिए गए थे. दो नाव को जोड़कर उसमें गणेश की विशाल प्रतिमा रखी गई थी और क्षमता से ज़्यादा लड़के उसमें सवार थे. विसर्जन के दौरान नावों का संतुलन बिगड़ा और 11 लड़के पानी में डूब गए थे.


Popular posts
दैनिक वांटेड टाइम्स के संपादक संदीप मानकर को खबर प्रकाशन के मामले के प्रकरण में भोपाल से गिरफ्तार कर हरियाणा पुलिस ले गई
Image
जनसंपर्क अधिकारी आनंद जैन की मनमानी, पत्रकारों ने अपर कलेक्टर संदीप जी आर को शिकायतों से अवगत कराया
Image
धरमजयगढ़ विकासखण्ड अंतर्गत संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ता एवं सहायिका पद के लिए 16 मार्च तक आवेदन आमंत्रित
Image
नेशनल चैंपियनशिप में गोल्ड जीतकर आया आरक्षक अंचित गबेल, पुलिस अधीक्षक ने बढ़ाया हौसला
Image
हाज़ी मुईम खान वरिष्ठ पत्रकार "मीडिया और समाज" के प्रति समर्पित को आइसना ने किया सम्मानित
Image