कोरोना वायरस आस पास के इलाकों में फ़ैल चुका है, इन सभी बातों का पालन करें और कोरोना से बचें, रोकथाम, लक्षण जानें
Corona virus, कोरोना से बचें, रोकथाम, लक्षण जानें 

 


इन सभी बातों का पालन करें और कोरोना से बचें


 


1)  इस वायरस का आकार 400 से 500 माइक्रोन होता तो कोई भी मस्क इसे रोक सकता है। ज्यादा कीमत का मास्क लेने की जरूरत नहीं।


 


2) यह वायरस हवा में नहीं रहता , यह किसी वस्तु पर य किसी जीव पर ही एक जगह से दूसरी जगह जाता है।


इसलिए यह हवा से नहीं फैलता।


 


3)  यह वायरस धातु पर पड़ा हो तो 12 घंटों तक ही जीवित रहता है, किसी ऐसी संक्रमित धातु को छूने के बाद साबुन और पानी से अच्छे तरह हाथ धोएं।


 


4)  कपड़ों पर यह वायरस 9 घंटों तक रहता है, कपड़ों को अच्छे तरह साबुन से धोएं और धूप में सूखने से मकसद पूरा होता है।


 


5)  हाथों पर यह वायरस 10 मिनट तक रहता है, इसलिए एल्कोहोल स्ट्रिलाइजर को लगाकर बचाव करे , जेब में रखने की आदत डाले।


 


6)  यह वायरस 26 से 27 डिग्री तापमान पर आने मर जाता है, इसलिए गर्म पानी पिएं, और सूरज की धूप लेे , आइस्क्रीम और ठंडे प्रदार्थ खाने से परहेज़ करें।


 


7)  गर्म नमक के पानी से गरारे करें , यह वायरस को फेफड़ों तक पहुंचने से रोकता है।


 


8)  भीड़ भाड़ वाले स्थानों में जाने से बचें ।


 


इन सभी बातों का पालन करें और कोरोना से बचें। सावधान


★ सर्दी बिल्कुल नही होने दें ।


★ जुकाम बुखार आते ही क्रोसिन एडवांस सुबह दोपहर शाम को 1-1 गोली 3 बार लेवें। 


★ विक्स का इन्हेलर पास में रखें।


★ रात सोते समय नाक कान गले और माथे पर विक्स लगावें।



कोरोना वायरस देश में दस्तक दे चुका हैं।


चॉकलेट , आइसक्रीम,  कोल्ड ड्रिंक,  कोल्ड कॉफी,  फास्ट फूड,  ठंडा दूध,  बासी मीठा दूध,  बड़ा पाव,  बेकरी की बनी चीजें,  पेस्टी, केक ये सब चीजें बंद करें। कम से अप्रैल माह तक जब तक की वातावरण का तापमान नहीं बढ़ जाता।


रोकथाम विधि


 1. अपने गले को नम रखना।


2. गला सूखने जैसा हो तो तुरत पानी पिएं।


3. जितना हो सके गुनगुने पानी में नींबू निचोड़ कर पियें,आंवले का सेवन करें। मतलब विटामिन-C का अधिकाधिक प्रयोग करें।


4. 1 कप गर्म दूध में चुटकी भर हल्दी पाउडर डाल कर चाय की तरह कम से कम 2 बार रोज सेवन करें।


5. किसी से भी हाथ मिलाने से परहेज करें।


6. हाथों को हमेशा धोएं


7. सर्दी,जुकाम वाले व्यक्ति के सम्पर्क से बचने की कोशिश करें या मास्क लगा कर मिलें।


 


लक्षण / विवरण इस प्रकार  हैं -


 1. तेज बुखार 


2. बुखार के बाद खांसी का आना


3.वयस्क आमतौर पर असहज महसूस करते हैं, 4.सिरदर्द और मुख्य रूप से श्वसन संबंधित


 


इस संदेश को अपने सभी प्रियजन को जल्दी से भेजे


क्योंकि-


उपचार से बेहतर है बचाव


Prevention is Better then Cure!!


Popular posts
हत्या के प्रयास में 07 माह से फरार कुख्यात बदमाश शादाब जहरीला का साथी राज प्रजापति को तलैया पुलिस ने किया गिरफ्तार
Image
साईं खेड़ा नगर में जनधन खाता धारको की लगी लंबी कतार, जनता ने इस सराहनीय पहल का स्वागत किया 
Image
रिश्वतखोर सहायक यंत्री मोहन सिंह 40 हजार रिश्‍वत लेते गिरफ्तार, लोकायुक्त के सिकंजे में फंसा
Image
नवाचार के माध्यम से बच्चों के बौद्धिक क्षमता को बढ़ाएं : डॉ. आलोक शुक्ला
Image
आरोग्य सेवा शोध संस्थान द्वारा जड़ी बूटियों द्वारा तैयार "आयुर्वेदिक सैनिटाइजर" का नि:शुल्क वितरण कार्यक्रम संपन्न
Image