बेदखल किये गये लोग अपने आशियानो से, चम्बल नदी के तट पर रहने को मजबुर परिवारों की भीड़ मे दो महिलायें है गर्भवती


TOC NEWS @ www.tocnews.org


ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा : 8305895567


नागदा जं । औद्योगिक शहर नागदा मे कोविड 19 कोरोना वायरस के चलते कर्फ्यू लगा हुवा है। प्रसाशन पुरी तरह से अलर्ट भी है। कसाई मोहल्ले मे अपने आशियानो मे रहने वाले घूमक्कड़ परिवारो को चम्बल तट पर रहने को मजबूर होना पड़ गया। ये परिवार कसाई मोहल्ले मे किराये से रह रहे थे। जिन्हे शहर से बाहर कर दिया गया।


कारण आशियाने के नजदीक रह रहे रहवाशियो द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते ली गई आपत्ति के कारण मकान मालिक ने किराये से रह रहे इन परीवारो को बेघर कर दिया। जिसकी वजह से इन परिवारों को चम्बल नदी के तट पर रहने को मजबूर होना पड़ा ।



जब कसाई मोहल्ले के रहवासियों से जानकारी जुटाई गई तो चौकाने वाली बात सामने आई की यह परिवार एक एक कमरो मे कई कई लोग भीड़ के रुप मे रह रहे थे। इसके अलावा यह बाहरी शहरो से आए अपने करीबियों से मिलना जुलना कर रहे थे जिसे देख क्षेत्र के रहवासियों ने आपत्ति लेते हुवे विरोध कर मकान मालिक को शिकायत की। जिससे ये लोग चम्बल तट पर रहने चले गये।


चम्बल तट पर रह रहे परिवारो मे 2 महिलायें गर्भवती भी है तथा युवतियों की संख्या भी ज्यादा होने से अनहोनी की भी शंका बनी हुई है ।


इनकी सुध लेते रहे समाज सेवी


शहर मे भोजन वितरित करने वाले पोरवाल समाज को जब इनकी जानकारी लगी तो भोजन की दोनो टाईम की व्यवस्था कर रहे है। वही पत्रकार साथियों ने इन परिवारों को दवाएं भी मुहैया कराई एव मास्क भी वितरित किये ।


Popular posts
ग्रेसिम उद्योग के विस्तारीकरण के पूर्व 7 सूत्रीय मांग पत्र उद्योग चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला सहित बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को भेजकर उठाई मांग
Image
जनसंपर्क विभाग के लोक सूचना अधिकारी श्रवण कुमार सिंह उपसंचालक ( विज्ञापन ) का षड्यंत्र विफल, राज्य सूचना आयोग का आदेश जानकारी एक माह में दे ऑल इंडिया स्माल न्यूज पेपर एसोसिएशन ( आइसना ) के सही मालिक को
Image
सरकार और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, 3 दिसंबर को फिर होगी बातचीत, जारी रहेगा प्रदर्शन
Image
प्रधान मंत्री रोजगार योजना को विफल करते बैंक अधिकारी ऋण दलाल और बैंक अधिकारी कर रहे काली कमाई
Image
यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम ने मांगी जमानत, बोला- 80 साल का वृद्ध हूं, कोर्ट ने याचिका पर किया यह निर्णय
Image