कोरोना को परास्त करने में प्रशासन को सहयोग करें, मुख्यमंत्री की प्रदेशवासियों से अपील



कोरोना को परास्त करने में प्रशासन को सहयोग करें, मुख्यमंत्री की प्रदेशवासियों से अपील




 




TOC NEWS @ www.tocnews.org




 




खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036





भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि कोरोना संक्रमण के दौरान प्रभावशील टोटल लॉकडाउन में घर से ना निकलें और प्रशासन को सहयोग करें। श्री चौहान ने कहा है कि हम सब मिलकर कोरोना से जंग लड़ रहे हैं।





हमारे कोरोना योद्धा जान हथेली पर रखकर आपकी सेवा में जुटे हुए हैं। श्री चौहान ने कहा कि पूरे मध्यप्रदेश में हमने कुछ शहरों को सील किया है तथा जहाँ कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए थे, उन हॉटस्पॉट क्षेत्रों को  सील करने का कार्य किया है।




आज कष्ट सह लेंगे, तो कल कोरोना को परास्त कर बाहर निकलेंगे




मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि मैं जानता हूं कई जरूरी चीजों की कमी के कारण आपको परेशानी हो सकती है। प्रशासन आवश्यक चीजों को आप तक पहुंचाने का पूरा प्रयास कर रहा है। फिर भी आपको कष्ट तो हो ही रहा है। इस कष्ट के लिए मैं आपसे माफी मांगता हूं। श्री चौहान ने कहा कि आज अगर हम कष्ट सह लेंगे, तो कल कोरोना की इस बीमारी को परास्त कर बाहर निकलेंगे, तब मैं आपको मना लूंगा परंतु यदि बाहर निकलेंगे तो हो सकता है माफी मांगने व माफ करने के लिए रहे ही नहीं।




कोरोना के लक्षण हैं, तो संकोच ना करें, तत्काल बताएं




  मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपेक्षा की है कि आपमें से किसी को भी यदि कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं, तो संकोच न करें, तत्काल बताएं। हेल्पलाइन 104 अथवा 181 पर तत्काल सूचना दें। उन्होने कहा कि कोरोना महामारी ऐसी नहीं है कि लक्षण है, तो मौत हो ही जाएगी। मौत केवल ऐसे प्रकरणों में ही होती है, जहां बताने में देर हो जाती है।




कईयों के स्वास्थ में हो रहा तेजी से सुधार




श्री चौहान ने कहा कि अपने प्रदेश में बहुत से लोग स्वस्थ होकर घर वापस जा चुके हैं। कईयों के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तबीयत ज्यादा खराब होने के बाद यदि मरीज आते हैं, तो ठीक होने की संभावना कम होती है। अतः लक्षण छुपाए नहीं बल्कि तुरंत बताएं। छुपाना महापाप है क्योंकि आप अपनी जिंदगी से खेल रहे हैं तथा अपने साथ-साथ दूसरों की जिंदगी भी खतरे में डाल रहे हैं।




व्यवस्थाओं मे नहीं छोड़ेंगे कोई कसर




मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपील में बताया है कि प्रदेश में कोरोना के संकट से निपटने के प्रभावी प्रयास लगातार सरकार कर रही है। जब मैं मुख्यमंत्री बना, तब कोरोना टेस्टिंग की व्यवस्था ही नहीं थी। एक लैब था और केवल 60 टेस्टिंग होती थी। अब 1000 से ज्यादा टेस्टिंग प्रतिदिन हो रही हैं। मास्क आदि की भी पूरी व्यवस्था है। डेडिकेटेड अस्पताल हैं। श्री चौहान ने कहा कि हम व्यवस्थाओं में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।




हम लड़ेंगे और जीतेंगे




मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों से कहा है कि घर से बाहर निकलना अति-आवश्यक होने पर आप बिना मास्क लगाए घर से ना निकलें। मास्क लगाना प्रदेश में अनिवार्य कर दिया गया है। लॉक डाउन का पूरा पालन करें, जिससे आप, आपका परिवार, प्रदेश और देश सुरक्षित रहे। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों का अभी तक दिये गये सहयोग के लिये धन्यवाद ज्ञापित करते हुए आश्वश्त किया है कि हम लड़ेंगे और जीतेंगे।



Popular posts
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के उप सचिव के घर आयकर विभाग की रैड, निकला 100 करोड़ कैश व 25 किलो सोना
Image
हत्या के प्रयास में 07 माह से फरार कुख्यात बदमाश शादाब जहरीला का साथी राज प्रजापति को तलैया पुलिस ने किया गिरफ्तार
Image
नवाचार के माध्यम से बच्चों के बौद्धिक क्षमता को बढ़ाएं : डॉ. आलोक शुक्ला
Image
आरोग्य सेवा शोध संस्थान द्वारा जड़ी बूटियों द्वारा तैयार "आयुर्वेदिक सैनिटाइजर" का नि:शुल्क वितरण कार्यक्रम संपन्न
Image
कोरोना से निपटने मध्यप्रदेश सरकार आयुर्वेदिक काढ़े के भरोसे, काढ़े के ( प्रचार ) पैकेट पर शिवराज की तस्वीर
Image