मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निजामुद्दीन मरकज के मौलाना है साद
निजामुद्दीन मरकज के मौलाना साद के खिलाफ एफआईआर दर्ज, क्राइम ब्रांच करेगा जांच

TOC NEWS @ www.tocnews.org


खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036


नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन मरकज मामले में मरकज के मौलाना साद कांधलवी और कई अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने सरकार के निर्देशों का उल्लंघन करने के आरोप में मौलाना साद के खिलाफ आईपीसी की धारा 269, 270, 271, 120-बी और महामारी रोग अधिनियम-1897 की धारा 3 के तहत मामला दर्ज किया है. इस मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंपी गयी है.


देशभर में कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन है. केन्द्र और राज्य सरकारें सबको घरों में रहने के लिए कह रही है. लोगों से दूरी बनाने की अपील की जा रही है. और एक तरफ लोग इनके आदेशों की अवहेलना कर रहे है. मामला दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात का है, जो सोमवार को अचानक सुर्खियों में आ गई.


इसे भी पढ़ें :- भाप्रसे के 12 अधिकारियों की नवीन पदस्थापना, ओ.पी. श्रीवास्तव को संचालक जनसम्पर्क अतिरिक्त प्रभार, देखें पूरी जानकारी


यहां पर देश और दुनिया से लगभग तीन हजार लोग धार्मिक सभा में हिस्सा लेने आये थे. जिनमें से इस इलाके में 24 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गए. हालांकि अभी तक सटीक आंकड़ा पता नहीं लग पाया है, लेकिन मरकज में 1500 से 1700 लोग इकट्ठा हुए थे. जानकारी मिलने पर पुलिस ने तुरंत लोगों को जांच के लिए भेजा है. 


निजामुद्दीन मरकज के मौलाना पर केस दर्ज:
निजामुद्दीन मरकज के मौलाना मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. इससे पहले मुख्यमंत्री दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कहा था कि दिल्ली सरकार ने निजामुद्दीन के धार्मिक आयोजन के संबंध में प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखा है.


700 लोगों को क्वारनटीन सेंटर भेजा गया:
स्वास्थ्य मंत्री सतेंदर जैन ने मुताबिक अब तक 334 लोगों को अस्पताल भेजा गया है, जबकि 700 लोगों को क्वारनटीन सेंटर भेजा गया है. मरकज सेंटर पर डॉक्टरों की टीम डेरा जमाए हुए हैं और सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है. इसके अलावा आस-पास के इलाके को भी सैनिटाइज किया जा रहा है. ऐसे में तब्लीगी जमात के जिम्मेदारों के खिलाफ दिल्ली सरकार ने FIR के आदेश भी दे दिए थे. 


इसे भी पढ़ें :- असहाय लोगों को नहीं होगी रहने, खाने, ईलाज में परेशानी, अपने-अपने क्षेत्र में थाना प्रभारियों ने ली बेसहाय लोगों की जिम्मेेदारी


क्या है मामला:
यह मामला तब खुला जब दिल्ली में 64 साल के एक शख्स की मौत हुई. यह शख्स कोरोना पॉजिटिव मिला था. इसके बाद 33 लोगों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जिसमें से कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. इस मामले के सामने आने पूरे सेंटर को खाली करवाया गया है. 


क्या है तब्लीगी जमात?
मुसलमानों के बीच इस्लाम की शिक्षा देने के लिए मौलाना इलियास कांधलवी ने तबलीगी जमात की स्थापना की. उन्होंने निजामुद्दीन में स्थित मस्जिद में कुछ लोगों के साथ तबलीगी जमात का गठन किया. इसे मुसलमानों को अपने धर्म में बनाए रखना और इस्लाम धर्म का प्रचार-प्रसार और इसकी जानकारी देने के लिए शुरू किया.


Popular posts
वीडियो : प्रेमिका के साथ थाना प्रभारी रंगरेलिया मनाते रंगे हाथों पकड़ाये, पत्नी ने आकर धर दबोचा, TI लूँगी बनियान में भागे
Image
अवैध शराब माफिया को किया नागदा पुलिस ने गिरफ्तार नागदा मंडी थाना कि कारवाही
Image
प्रधानमंत्री जी की उम्दा सोच ने देश को बचा लिया, लेकिन जेहादियो ने कोहराम मचा दिया : नारायण त्रिपाठी
Image
यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम ने मांगी जमानत, बोला- 80 साल का वृद्ध हूं, कोर्ट ने याचिका पर किया यह निर्णय
Image
धरमजयगढ़ विकासखण्ड अंतर्गत संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ता एवं सहायिका पद के लिए 16 मार्च तक आवेदन आमंत्रित
Image