PM मोदी का ऐलान- भारत में 3 मई तक लॉकडाउन, पीएम ने मांगा इन 7 बातों का साथ



PM मोदी का ऐलान- भारत में 3 मई तक लॉकडाउन, पीएम ने मांगा इन 7 बातों का साथ




TOC NEWS @ www.tocnews.org




खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036




पीएम ने कहा कि जिन जगहों पर 20 अप्रैल तक नए हॉटस्पॉट नहीं बनेंगे वहां सशर्त छूट मिलेगी. पीएम ने युवा वैज्ञानिकों से कोरोना वैक्सीन विकसित करने का आग्रह किया है.




नई दिल्ली । देशभर में लॉकडाउन को अब 3 मई 2020 तक बढ़ा दिया गया है। इस बात की घोषणा आज पीएम नरेन्द्र मोदी में अपने देश के नाम संदेश में की। उन्होंने बताया कि देशभर में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 9 हजार के पार जा चुका है। 324 लोग जान गंवा चुके हैं। कई ऐसे राज्य हैं, जहां कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और यही वजह है कि लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। पीएम मोदी ने इस दौरान देश की जनता को 7 सूत्र दिए और उनका पालन करने का आग्रह किया।



सभी तरफ से मिल रहा था ऐसा सुझाव



पीएम मोदी ने देश के नाम संबोधन में कहा कि सभी का यही सुझाव था कि लॉकडाउन को बढ़ाया जाए। कई राज्य तो पहले से ही लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला कर चुके हैं। सारे सुझावों को ध्यान में रखते हुए ये तय किया गया है कि भारत में लॉकडाउन को अब 3 मई तक और बढ़ाना पड़ेगा।



पीएम मोदी ने इन 7 बातों में मांगों आपका साथ



1. बुजुर्गों का विशेष ध्यान करें, जिन्हें पुरानी बीमारी उनकी एक्स्ट्रा केयर करें




2. लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, घर में बने फेस मास्क का हमेशा उपयोग करें




3. इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के निर्देशों का पालन करें




4. कोरोना संक्रमण रोकने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप डाउनलोड करें और दूसरों को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें




5. जितना हो सके उतने गरीब परिवारों की देखरेख करें




6. अपने व्यवसाय में संवेदना दिखाएं, किसी को नौकरी से ना निकालें




7. कोरोनावॉरियर्स का सम्मान करें



लॉकडाउन के अच्छे से पालन के लिए लोगों को बधाई दी



पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि लॉकडाउन के इस समय में देश के लोग जिस तरह नियमों का पालन कर रहे हैं, जितने संयम से अपने घरों में रहकर त्योहार मना रहे हैं, वो बहुत प्रशंसनीय है। उन्‍होंने कहा कि आज पूरे विश्व में कोरोना वैश्विक महामारी की जो स्थिति है, आप उसे भली-भांति जानते हैं। अन्य देशों के मुकाबले, भारत ने कैसे अपने यहां संक्रमण को रोकने के प्रयास किए, आप इसके सहभागी भी रहे हैं और साक्षी भी। उन्‍होंने कहा कि जब हमारे यहां कोरोना के सिर्फ 550 केस थे, तभी भारत ने 21 दिन के संपूर्ण लॉकडाउन का एक बड़ा कदम उठा लिया था। भारत ने समस्या बढ़ने का इंतजार नहीं किया, बल्कि जैसे ही समस्या दिखी उसे तेजी से फैसले लेकर उसी समय रोकने का प्रयास किया।



Popular posts
ग्रेसिम उद्योग के विस्तारीकरण के पूर्व 7 सूत्रीय मांग पत्र उद्योग चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला सहित बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को भेजकर उठाई मांग
Image
जनसंपर्क विभाग के लोक सूचना अधिकारी श्रवण कुमार सिंह उपसंचालक ( विज्ञापन ) का षड्यंत्र विफल, राज्य सूचना आयोग का आदेश जानकारी एक माह में दे ऑल इंडिया स्माल न्यूज पेपर एसोसिएशन ( आइसना ) के सही मालिक को
Image
सरकार और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, 3 दिसंबर को फिर होगी बातचीत, जारी रहेगा प्रदर्शन
Image
प्रधान मंत्री रोजगार योजना को विफल करते बैंक अधिकारी ऋण दलाल और बैंक अधिकारी कर रहे काली कमाई
Image
यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम ने मांगी जमानत, बोला- 80 साल का वृद्ध हूं, कोर्ट ने याचिका पर किया यह निर्णय
Image