बेशकीमती सागौन के वृक्ष की अवैध कटाई पर अंकुश लगाने पर असफल वन विभाग



बेशकीमती सागौन के वृक्ष की अवैध कटाई पर अंकुश लगाने पर असफल वन विभाग




TOC NEWS @ www.tocnews.org




ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778





माफियाओं के खिलाफ वन विभाग की निष्क्रियता दर्शा रही मिलीभगत को





बालाघाट. जिला वन संपदा के लिए पूरे देश में प्रसिद्ध है । जिसके कारण वन माफियाओं की नजर इस जिले के बेशकीमती वृक्षों पर हमेशा लगी रहती है । बेशकीमती सागौन के वृक्षों की अवैध कटाई की जानकारी जिले के अलग-अलग हिस्सों से आ रही है । लामता वन विकास निगम के लालबर्रा परियोजना परिक्षेत्र में भारी मात्रा में सागौन की अवैध कटाई का सिलसिला निरंतर जारी है।




हाल ही में लालबर्रा क्षेत्र अंतर्गत सागौन के जंगल में पेड़ों की धड़ल्ले से कटाई वन माफिया द्वारा की गई है। इसके बावजूद भी वन विभाग के द्वारा किसी भी प्रकार की सक्रियता ना दिखना कर्मचारी अधिकारियों की मिलीभगत को दर्शा रहा है । विडम्बना यह है कि जिस स्थान पर सागौन के पेड़ों की अवैध कटाई हुई है । वह स्थान वन चौकी से महज सौ मीटर की दूरी पर है।






.




बतादे लालबर्रा रेंज के सेलवा, बगदई, सालेबर्री बीट के अंतर्गत कक्ष क्रमांक 393, 394 ,398 ,388 व 389 में हाल ही में दर्जनों संख्या में सागौन के पेड़ काटे गए हैं। जहां पेड़ काटे गए वहां दर्जनों पेड़ों के ठूठ अब भी साक्ष्य बनकर अड़े है, इसके बावजूद भी लालबर्रा रेंज के बीट अधिकारियों द्वारा इसे गंभीरता से ना लेना। माफियाओं के हौसले को बुलंद कर रहा है। वन विभाग की निष्क्रियता यूं ही चलती रही तो जिले के जंगलों से बेशकीमती सागौन के वृक्ष समाप्त होने में समय नहीं लगेगा ।




इस मामले में वन परिक्षेत्र अधिकारी एम एस श्रीवास्तव ने बताया कि प्रकरण पंजीबद्ध कर मामलों की जांच शुरू है।



Popular posts
जनसंपर्क के सहायक संचालक मुकेश दुबे पर राज्य सूचना आयोग ने ₹25000 का जुर्माना ठोका, अधिरोपित शास्ति प्रत्यर्थी की सेवा पुस्तिका में अंकित करने का निर्णय
Image
पर्यटन की संभावना के बावजूद रख-रखाव के अभाव में उपेक्षित शेरगढ़ का किला
Image
नीलामी में घोटाला : पति रंजीत कर्नाल की शाजिस पर 41 लाख की जमीन 12 लाख में नीलाम करने वाली तहसीलदार दीपाली निलंबित
Image
दैनिक वांटेड टाइम्स के संपादक संदीप मानकर को खबर प्रकाशन के मामले के प्रकरण में भोपाल से गिरफ्तार कर हरियाणा पुलिस ले गई
Image
सरकार और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, 3 दिसंबर को फिर होगी बातचीत, जारी रहेगा प्रदर्शन
Image