चाइनीस कंपनी ने निकालें भारतीय मजदूर, चीनी कंपनी ने स्थानीय मजदूरों को कोरोना के बहाने कंपनी से बाहर किया
चाइनीस कंपनी ने निकालें भारतीय मजदूर, चीनी कंपनी ने स्थानीय मजदूरों को कोरोना के बहाने कंपनी से बाहर किया

TOC NEWS @ www.tocnews.org


ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778



  • कम्पनी ने मजदूरों को निकालने की वजह अब तक नही की साफ

  • निकाले गए मजदूर हुए बेरोजगार

  • मजदूरों ने कलेक्टर से लगाई गुहार

  • तूल पकड़ रहा मामला


भारत और चाइना सीमा पर तनाव के बीच बालाघाट में चायनीज कम्पनी द्वारा भारतीय मजदूरों से रोजगार छीनने का मामला सामने आया है। और यह मामला तूल पकड़ता दिखाई दे रहा है। दरअलस बालाघाट जिले में भारत सरकार के उपक्रम मैग्नीज ओर इंडिया लिमिटेड के लिए चाइनीस कंपनी चाइना कोल सीसी-3 कम्पनी काम कर रही है। और इस चायनीज ने 72 भारतीय मजदूरों का काम से निकाल दिया है।


ये मजदूर पिछले 1 साल से इस कंपनी के लिए अंडर ग्राउंड शाफ्ट निर्माण का कार्य कर रहे थे। बताया जा रहा है कम्पनी ने लॉक डाउन और कोरोना का बहाना बना कर कंपनी में काम बंद होने की बात कह कर इन मजदूरों को बिना कोई सूचना के निकाल दिया।


वीडियो ख़बर  इनका कहना है :- सितेश कठौते, मजदूर, दीपक आर्य, कलेक्टर बालाघाट, इमरान खान, मजदूर यूनियन



तीन महीने बाद जब एक सप्ताह पहले कंपनी ने दोबारा काम शुरू हुआ तो कम्पनी में काम करने पहुंचे इन मजदूरों को कोरोना संक्रमण का हवाला देते हुए काम पर वापिस रखने से कम्पनी के अधिकारियों ने साफ मना कर दिया। रोजगार जाने से परेशान मजदूरों ने इस मामले में कलेक्टर से गुहार लगाई है।


कलेक्टर ने इस मसले पर जल्द से जल्द कोई हल निकालने का आश्वासन मजदूरों को दिया है। वही स्थानीय मजदूर संगठनों ने भारत सरकार से चायनीज कम्पनी का कॉन्ट्रैक्ट निरस्त कर भारतीय कम्पनी को कॉन्ट्रेक्ट देने की मांग की है।


Popular posts
जनसंपर्क के सहायक संचालक मुकेश दुबे पर राज्य सूचना आयोग ने ₹25000 का जुर्माना ठोका, अधिरोपित शास्ति प्रत्यर्थी की सेवा पुस्तिका में अंकित करने का निर्णय
Image
पर्यटन की संभावना के बावजूद रख-रखाव के अभाव में उपेक्षित शेरगढ़ का किला
Image
नीलामी में घोटाला : पति रंजीत कर्नाल की शाजिस पर 41 लाख की जमीन 12 लाख में नीलाम करने वाली तहसीलदार दीपाली निलंबित
Image
दैनिक वांटेड टाइम्स के संपादक संदीप मानकर को खबर प्रकाशन के मामले के प्रकरण में भोपाल से गिरफ्तार कर हरियाणा पुलिस ले गई
Image
सरकार और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, 3 दिसंबर को फिर होगी बातचीत, जारी रहेगा प्रदर्शन
Image