रविदास समाज की भूमि पर बना है सूर्यनारायण सरोवर, रविदास समाज की मांग पर हुआ सीमांकन
रविदास समाज की भूमि पर बना है सूर्यनारायण सरोवर, रविदास समाज की मांग पर हुआ सीमांकन

TOC NEWS @ www.tocnews.org


ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल


मुलताई। नगर का सूर्यनारायण सरोवर रविदास समाज की भूमि पर अतिक्रमण कर बनाया गया है। इस भूमि को रविदास समाज के लोगों को आवंटित किया गया था, लेकिन प्रशासन ने तालाब खुदवाने से पहले यह जानना जरूरी नहीं समझा कि भूमि किस मद की है। इधर समाज के लोगों द्वारा सीमांकन का आवेदन लगाने और उस पर सीमांकन होने के बाद इस मामले का खुलासा हुआ है।


नगर के रविदास समाज के लोगं ने रविदास समाज के लिए मुर्दा मवेशी चीरने-फाडऩे हेतु आवंटित शासकीय भूमि पर लगातार हो रहे अतिक्रमण को लेकर एसडीएम मुलताई करने की मांग करते हुए ज्ञापन दिया था। जिस तत्काल कार्यवाही करते हुए मुलताई पटवारी सोहबत धुर्वे ने मौके पर पहुंच कर भूमि की नपाई करते हुए सीमांकन किया। विगत कई वर्षों से रविदास समाज द्वारा मुर्दा मवेशी का चमड़ा निकालने का काम किया जाता रहा है।


जिस पर देश प्रदेश में इस काम के लिए रविदास समाज के लोगो को भूमि आंवटित की गई है। लेकिन वर्तमान में नगरों में पशु न होने पर यह कार्य लगभग बंद हो चुका है। जिसके चलते लगातार अब इस भूमि पर अतिक्रमण होने लगा है। सीमांकन के बाद ज्ञात हुआ कि उपरोक्त भूमि जिसका खसरा 1126 है, यह सूर्यनारायण तालाब और अमरावती रोड़ के बीच मे स्थित है।


जिसमे से लगभग आधी भूमि पर सूर्यनारायण तालाब बना दिया गया है, और बाकी भूमि पर नगर पालिका द्वारा बाउंड्री करवा कर पौधारोपण किया जाने की तैयारी की जा रही है। रविदास समाज के लोगो ने कहा कि उपरोक्त भूमि रविदास समाज के लोगो के उपयोग हेतु दी गयी थी, जिसका दूसरा उपयोग न करते हुए समाज के उपयोग हेतु ही पूर्वानुसार यथावत रखी जानी चाहिए।


Popular posts
फर्जी पुलिस बन नौकरीपेशा महिलाओं से शादी का झांसा देने वाला आरोपी गिरफतार
Image
यहां कम उम्र की लड़कियों को जबरन बनाया जाता है मां
Image
विवादित तीरंदाजी कोच रिचपाल सिंह सलारिया के आपराधिक प्रकरण में जबलपुर न्यायालय में पेशी, कई आपराधिक प्रकरण दर्ज होने के बाद भी शासकीय नौकरी पर काबिज
Image
राहुल गांधी ने मानहानि मामले में सजा के खिलाफ सूरत कोर्ट में अर्जी की दाखिल
Image
क्या राहुल गांधी से डर गई है भाजपा? : मानहानि के मामले में अधिकतम सजा, तुरंत संसद से बर्खास्तगी, आ रही साजिशों की बू
Image