आदिवासी समुदाय की महिलाओं ने किया विरोध और कहा आदिवासी समाज स्वयं को हिन्दू नही मानता
आदिवासी समुदाय की महिलाओं ने किया विरोध और कहा आदिवासी समाज स्वयं को हिन्दू नही मानता

TOC NEWS @ www.tocnews.org


जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 



अब राम भक्त हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

दुर्ग जिले में आदिवासी महिलाओं ने राज्यपाल के नाम एस डी एम को ज्ञापन सौंपा



छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नई सरकारी योजना राम वन गमन पथ के तहत 10 करोड़ रुपए स्वीकृत किया है, जिसमे 51 जगह राम मंदिर निर्माण का कार्य होगा, जिसका विरोध आज छत्तीसगढ़ की आदिवासी महिलाओं ने किया.


आदिवासी समुदाय की महिलाओं ने साफ कहा कि भूपेश बघेल उनके समुदाय के ऊपर हिन्दू धर्म ना थोपे, आदिवासी समाज स्वयं को हिन्दू नही मानता है । अतः मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आदिवासी समुदाय के ऊपर हिन्दू धर्म थोपने की कोशिश ना करे उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज प्रकृति की पूजा करता है व उनका देवता आंगा देव है उनके बीच कभी राम का जिक्र भी नही होता है।


आदिवासी समाज की महिलाओं ने बताया कि बस्तर संभाग 5वी अनुसूची क्षेत्र है, और ये अनुसूचित क्षेत्र होने के कारण बिना ग्राम सभाओं की इजाजत के यहा किसी भी प्रकार का निर्माण कार्य असंवैधानिक है ।


ये अनुसूचित क्षेत्र होने के कारण यहां सरकारी धन का उपयोग बेरोजगारी, गरीबी, अशिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाओं, के लिए होना चाहिए, यहाँ मंदिर निर्माण का कार्य जनता के पैसा व सरकारी धन का दुरुपयोग है..


Popular posts
ग्रेसिम उद्योग के विस्तारीकरण के पूर्व 7 सूत्रीय मांग पत्र उद्योग चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला सहित बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को भेजकर उठाई मांग
Image
जनसंपर्क विभाग के लोक सूचना अधिकारी श्रवण कुमार सिंह उपसंचालक ( विज्ञापन ) का षड्यंत्र विफल, राज्य सूचना आयोग का आदेश जानकारी एक माह में दे ऑल इंडिया स्माल न्यूज पेपर एसोसिएशन ( आइसना ) के सही मालिक को
Image
बारहवीं के रिजल्ट ने ले ली छात्रा की जान - बिगड़ा था अंग्रेजी का पर्चा
Image
सरकार और किसानों के बीच नहीं बनी सहमति, 3 दिसंबर को फिर होगी बातचीत, जारी रहेगा प्रदर्शन
Image
प्रधान मंत्री रोजगार योजना को विफल करते बैंक अधिकारी ऋण दलाल और बैंक अधिकारी कर रहे काली कमाई
Image