आमजनों की भावना के अनुरूप ही होंगे काम, शहर में रिंग रोड बनाना पहली प्राथमिकता : गौरीशंकर बिसेन



आमजनों की भावना के अनुरूप ही होंगे काम, शहर में रिंग रोड बनाना पहली प्राथमिकता : गौरीशंकर बिसेन




 




TOC NEWS @ www.tocnews.org




ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778





आमलोगों की सुरक्षा-सुविधा व वनों का संरक्षण हमारे लिए सर्वोपरि है रोड के चौड़ीकरण हेतु वन विभाग से पेड़ कटाई की सैद्धांतिक सहमति मिली





बालाघाट। इन दिनों क्षेत्र की समस्या और विकास के मुद्दों को लेकर राजधानी भोपाल के प्रवास पर गए प्रदेश के पूर्व मंत्री व विधायक गौरीशंकर बिसेन ने बयान जारी कर बताया कि प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान स्वयं पॉजिटिव होने के बाद काफी मंत्री गन उनके संपर्क में आए जिसको लेकर समस्त विधायक मंत्री स्वयं को क्वॉरेंटाइन हो गए.




मुझे जानकारी लगी कि जिला प्रशासन द्वारा बालाघाट नगर के आमजनों, व्यापारी व ट्रान्सपोर्टरों की माँग पर तात्कालिक समाधान निकालने हेतु डेंजर रोड से बाइपास बनाने का प्रस्ताव बनाया गया है ज़िला प्रशासन ने इस तरह का प्रस्ताव तैयार किया है जिस हेतु प्रस्तावित डेंजर रोड के चौड़ीकरण हेतु पेड़ों की कटाई होना है। पेड़ो की कटाई की खबर से आमजन आहत होकर इसका विरोध कर रहे हैं वहीं कुछ लोग उक्त मार्ग बनाने के समर्थन में हैं श्री बिसेन ने कहा कि मैं बालाघाट क्षेत्र का जनप्रतिनिधि होने के नाते आम जनमानस की भावनाओं के साथ खड़ा हूं।




आमजन जैसा चाहेंगे वैसा ही हम काम करेंगे। आखिर शहर का विकास और जनकल्याण ही हमारी मूल भावना है। गौरतलब है कि आमलोगों की सुरक्षा-सुविधा व वनों का संरक्षण हमारे लिए सर्वोपरि है। रोड के चौड़ीकरण हेतु वन विभाग से पेड़ कटाई की सैद्धांतिक सहमति मिली थी। इस सम्बंध में मेरे द्वारा दूरभाष पर जिला कलेक्टर को इस निर्माण कार्य को रोक लगाने की बात कही गई है, ताकि जनता जनार्दन की भावनाओं का सम्मान हो। यदि यह बाईपास बन भी जाए तो यह आवागमन का मूल समाधान नहीं होगा। हम सबको इसका स्थाई हल खोजना होगा। विधायक बिसेन ने इस मामले में भ्रांतिया फैलाने वालों को चेताते हुए कहा कि वह नगर विकास और वन संरक्षण की आड़ में अपनी राजनीतिक रोटियां ना सेंके।






ऐसे तथाकथितों द्वारा फैलाई जा रही अफवाह पूर्णता निराधार है। ऐसे लोगों से नगरवासियों को सचेत रहने की आवश्यकता है। क्योंकि यह मसला कोई राजनीतिक नहीं है बल्कि शहर के विकास और पर्यावरण के संरक्षण का है। उन्हें बेहतर होगा कि भ्रांतियां न फैलाए बल्कि सहयोग करें। इसमें हर व्यक्ति की अहम भूमिका है कि हम अपने शहर को कैसा स्वच्छ, स्वस्थ और सुंदर कैसे बना सकते हैं। जो शहर की जनता ने अपने अटल इरादों से कई मर्तबा साकार करके दिखाया है।



मुसीबतों से रहवासियों को मिलेगा छुटकारा



श्री बिसेन कहा कि बालाघाट शहर में आवागमन को लेकर आ रही परेशानियों को दृष्टिगत रखते हुऐ कोहमारा-गोंदिया से बालाघाट, बालाघाट से मंडला और बालाघाट से सिवनी राष्ट्रीय मार्ग का निर्माण किया जाना हमारी पहली प्राथमिकता है। जिसके अन्तर्गत बालागाट नगर के चारों ओर रिंग रोड का हर हाल में निर्माण किया जाएगा। जिसका प्राथमिक अध्ययन कार्य प्रारम्भ हुआ है। इसमें छोटी, मोटी दिक्कतें आएंगी, जिसका हम सभी को मिलकर सामना करना होगा।




बालाघाट शहर के लिए रिंग रोड अत्यंत जरूरी है इससे आकस्मिक दुर्घटनाएं और जाम इत्यादि की मुसीबतों से रहवासियों को छुटकारा मिल सकेगा। विधायक गौरीशंकर बिसेन ने आगे बताया कि भारतमाला परियोजना के तहत गोंदिया-बालाघाट, बालाघाट-मंडला नेशनल हाईवे का निर्माण कार्य किया जाना है। जिसमें की बालाघाट-मण्डला का क्रमांक 543 भी आवंटित हो चुका है। इसी कड़ी में बालाघाट सिवनी का भी निर्माण कार्य किया जाना जो कि अभी प्रस्तावित है यह भी हमारी विशेष प्राथमिकता है।




इस कार्य को हम केंद्र में हमारे प्रतिनिधि लोकसभा क्षेत्र बालाघाट के सांसद डॉ. ढालसिंह बिसेन के साथ मिलकर जल्द पूर्ण करेंगे। निर्माण कार्यों में हमें आम जनमानस का भरपूर सहयोग मिलेगा ऐसा मुझे पूर्ण विश्वास हैं। हम सब जन जागरण फैलाकर अधिक से अधिक पौधरोपण करें, वनों को बचाये, वनो का संरक्षण करें, साफ सफाई रखें। आगे बढ़कर कोरोना संक्रमण के बचाव के समस्त स्वास्थ्य और सरकारी नियमों का निष्ठा पूर्वक पालन करें। अंत में विधायक बिसेन ने कहा कि मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की सरकार है, जनता जैसा चाहेगी वैसे ही कार्य होंगे। जनमानस के अनुरूप ही कार्य होंगे।



Popular posts
वीडियो : प्रेमिका के साथ थाना प्रभारी रंगरेलिया मनाते रंगे हाथों पकड़ाये, पत्नी ने आकर धर दबोचा, TI लूँगी बनियान में भागे
Image
प्रधानमंत्री जी की उम्दा सोच ने देश को बचा लिया, लेकिन जेहादियो ने कोहराम मचा दिया : नारायण त्रिपाठी
Image
यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम ने मांगी जमानत, बोला- 80 साल का वृद्ध हूं, कोर्ट ने याचिका पर किया यह निर्णय
Image
शिवराज सरकार 2020 के कार्यकाल के 8 महीने में 64 अतिथि शिक्षक आत्महत्या कर चुके, 25000 पत्रकार बेरोज़गार
Image
जनसंपर्क के सहायक संचालक मुकेश दुबे पर राज्य सूचना आयोग ने ₹25000 का जुर्माना ठोका, अधिरोपित शास्ति प्रत्यर्थी की सेवा पुस्तिका में अंकित करने का निर्णय
Image