अब भाजपा विधायक अजय विश्नोई का दर्द छलका, मुख्यमंत्री को लिख दी यह बात










अब भाजपा विधायक अजय विश्नोई का दर्द छलका, मुख्यमंत्री को लिख दी यह बात 

TOC NEWS @ www.tocnews.org


भोपाल // विनय जी. डेविड 9893221036 



पाटन के भाजपा विधायक अजय विश्नोई को मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री नहीं बनाए जाने का दर्द आज पत्र के माध्यम से छलक ही पड़ा। मंत्रिमंडल तैयार होते ही इतनी जल्दी इस दर्द का होना से अंदर ही अंदर भारतीय जनता पार्टी में खलबली मची गई है।


भाजपा विधायक अजय विश्नोई ने आज अपने पत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को जबलपुर और रीवा संभाग के नागरिकों में मंत्री परिषद को लेकर असंतोष जाहिर किया है और वास्तविक स्वीकारते हुए मुख्यमंत्री को उनकी मजबूरी का एहसास कराया है।


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को सीधी तौर पर लिखा है कि मैं आपकी मजबूरी को समझ सकता हूं परंतु आम जनता नहीं। अजय विश्नोई ने आम जनता का सहारा लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह मंत्रिमंडल को बड़ी मजबूरी के साथ जोड़ा है एवं उन्हें सलाह दी है कि वह स्वयं जबलपुर रीवा जिले का प्रभार ले ले जिससे लोगों की नाराजगी दूर हो जाए।





अब भाजपा विधायक अजय विश्नोई का दर्द छलका, मुख्यमंत्री को लिख दी यह बात



साथ ही कांग्रेस के दिग्विजय सिंह मुख्यमंत्री रहते हुए जबलपुर के प्रभारी मंत्री रह चुके हैं इस तरह की सलाह देकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को अपने दर्द का एहसास कराने का प्रयास किया है।


यह अजय विश्नोई का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को लिखा हस्ताक्षर युक्त पत्र सोशल मीडिया की सुर्खियां बना हुआ है वहीं क्षेत्र की राजनीति गरमाने लगी है, ऐसा लगता है सरकार में आए विपक्षी पार्टी के लोगों को मंत्री बनाया गया है अब भाजपा के कुछ विधायकों को हजम नहीं हो रहा है धीरे-धीरे उनका आक्रोश किसी न किसी तरह प्रदर्शित होने लगा है।


Popular posts
सर्वब्राह्मण समाज मंदिरो के पुजारी और कर्मकाण्डी ब्राह्मण परिवार को राशन सामग्री भेट कर आराध्य देव भगवान परशुराम जन्मोत्सव की मंगल शुभकामनाये देगा
Image
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के उप सचिव के घर आयकर विभाग की रैड, निकला 100 करोड़ कैश व 25 किलो सोना
Image
ग्रेसिम उद्योग के विस्तारीकरण के पूर्व 7 सूत्रीय मांग पत्र उद्योग चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला सहित बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को भेजकर उठाई मांग
Image
जनसंपर्क के सहायक संचालक मुकेश दुबे पर राज्य सूचना आयोग ने ₹25000 का जुर्माना ठोका, अधिरोपित शास्ति प्रत्यर्थी की सेवा पुस्तिका में अंकित करने का निर्णय
Image
स्वास्थ्य विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर करोडो की ठगी करने वाले गिरोह को किया गया गिरफ्तार
Image